Home » हृदय के मरीज़ों के लिए चिंता का कारण है मक्खन, इस्से बहतर हैं ये 3 तेल..
अजब-गज़ब आहार योजना बिना श्रेणी लाइफस्टाइल स्वास्थ्य हार्ट केयर

हृदय के मरीज़ों के लिए चिंता का कारण है मक्खन, इस्से बहतर हैं ये 3 तेल..

Closeup of coiled butter rolls in a dish to be served as an accompaniment to a meal or bread rolls

मक्खन रसोई में हमेशा मौजूद रहने वाली एक जरूरी चीज है. लेकिन बहुत सारे कारण हैं कि खाना पकाने और बेकिंग में मक्खन के इस्तेमाल से बचने की सलाह दी जाती है. काफी लोगों को डेयरी और डेयरी उत्पादों से एलर्जी होती है ऐसे में वे खाना पकाने और बेकिंग में मक्खन का इस्तेमाल नहीं कर पाते. खाने में बहुत ज्यादा मक्खन कई लोगों के लिए चिंता का कारण बन सकता है, क्योंकि यह हृदय रोगों या उच्च रक्तचाप जैसी परेशानियों को बढ़ा सकता है.

मक्खन की जगह इस्तेमाल करें घी..

आर्युवेद में प्राचीन काल से ही घी को स्वास्थ्यवर्धक वसा का स्रोत माना जाता है. प्राचीन चिकित्सकीय उपचारों और कुछ अध्ययनों में ये सुझाव दिया गया है कि घी को सही मात्रा में खाने से दिल के रोगों का ख़तरा कम होता है. घी में मौजूद कॉन्जुगेटिड लिनोलिक एसिड ह्र्दय रोगों को कम करने में मदद करता है. टाइप टू शुगर से पीड़ित लोगों में ये ख़तरा ज़्यादा होता है. इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि चावल जैसे कार्बोहाइड्रेट से लैस खाद्य पदार्थों में घी को शामिल करने से ये उसमें मौजूद शुगर को अधिक प्रभावी ढंग से पचाने में मदद करता है.

मक्खन की जगह आहार में शामिल करें नारियल का तेल…

नारियल तेल का उपयोग खाना बनाने के साथ स्वास्थ के लिए भी किया जाता है. नारियल तेल को पाचन तंत्र के लिए भी अच्छा माना जाता है. नारियल तेल के इस्तेमाल के कई फायदे हैं. कई गुणों से भरपूर यह तेल स्वास्थ्यपरक फायदों के लिए पीढ़ियों से इस्तेमाल में लाया जा रहा है. नारियल का तेल सेबम की तरह होता है, जो शरीर का अपना प्राकृतिक तेल होता है जो स्‍कैल्‍प को ड्राई होने से बचाने में मदद करता है और बालों की जड़ों को नुकसान नहीं होने देता. नारियल तेल के इस्तेमाल से वजन भी कम किया जा सकता है. ताजे नारियल से निकाले गए तेल में अन्य नारियल तेलों की अपेक्षा ज्यादा मीडियम चेन फैटी एसिड्स (70-85 प्रतिशत) होता है. मीडियम चेन फैटी एसिड्स आसानी से ऑक्सीडाइज्ड लिपिड्स होते हैं और एडीपोज ऊतक में संग्रहित नहीं होते हैं. इस प्रकार, मुख्य रूप से मीडियम चेन फैटी एसिड युक्त नारियल का तेल वजन घटाने में मददगार साबित होता है.

 मक्खन की जगह आहार में शामिल करें जैतून का तेल…

लंबे समय से जैतून के तेल को खाना पकाने के लिए सबसे अच्छे तेलों में से एक माना जाता है. जैतून के तेल का इस्तेमाल करने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है. हाई बीपी के लोगों के लिए फायदेमंद है, क्योंकि ये शुगर लेबल को कम करने में लाभकारी है. स्वास्थ के लिए जैतून का तेल काफी फायदेमंद होता है. जैतून के तेल का उपयोग छोटे बच्चों की मालिश के लिए भी किया जाता है. जैतून तेल डिप्रेशन, कैंसर मधुमेह को नियंत्रित करने का काम करता है.

About the author

TheHealthCareToday

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विशेष रुप से प्रदर्शित

Powered by themekiller.com