न्यूरोलॉजी स्वास्थ्य हेल्थ इंडस्ट्रीज न्यूज

H1N1 से महारष्ट्र में इस साल 300 मौतें, बच्चों की दिमागी हालत पर डाल रहा असर…

नई दिल्लीः महाराष्ट्र के मुंबई में H1N1 वायरस से जुड़ा हुआ एक मामला सामने आ रहा है. यहां एक 10 साल का बच्चा इस वायरस की चपेट में आ गया, जिसके कारण उसकी दिमागी हालत पर ऐसा असर पड़ा है कि उसे खुद के माता-पिता तक पहचान नहीं आ रहे हैं. डॉक्टर्स का मानना है कि H1N1 बच्चों के रेस्पिरेटरी सिस्टम के साथ ही उनके दिमाग को भी इफेक्ट कर रहा है.

पिछले एक महीने में पेड्रियाट्रिक न्यूरोलॉजिस्ट ने H1N1 वायरस से पीड़ित कम से कम 5-6 ऐसे बच्चों का ट्रीटमेंट किया है जो फीवर, कोल्ड, थ्रोट इंफेक्शन के साथ ही दिमागी समस्याओं से पीडित हैं.

न्यूरो एक्सपर्ट इस बात पर जोर देते हुए सलाह दे रहे हैं कि H1N1 का इलाज करने के दौरान डॉक्टर्स को ब्रेन में होने वाली सूजन या फिर अचानक पड़ने वाले दौरे के बारे में खासतौर पर सोचना चाहिए और साथ ही बच्चे को जरूरत पड़ने पर वेंटिलेशन और ICU में रखें.

इस सबंध में एक न्यूरो सर्जन बताया कि इस समय H1N1 वायरस बच्चों के दिमाग को बहुत इफेक्ट कर रहा है. इसका कारण बताते हुए डॉ. का कहना है कि एच1एन1 वायरस न्यू‍रोट्रॉपिक वायरस हैं, जोकि बॉडी के न्यूरल स्ट्रक्चर जैसे – नर्वस, ब्रेन उन पर अटैक कर उनसे बॉडी में एंटर करते हैं. इन्सेफेलाइटिस नामक ये वायरस बच्चों को सबसे ज्यादा इफेक्ट करता है क्योंकि बच्चों का इम्यून सिस्टम इतना स्ट्रांग नहीं होता कि वो किसी भी वायरस से अचानक लड़ पाए.

H1N1 सेंट्रल नर्वस सिस्टम का इंफेक्शन है जिससे ब्रेन के फंक्शंस डिस्टर्ब हो जाते हैं. इससे बच्चों में दौरे पड़ने लगते हैं. बच्चे की याददाश्त जा सकती है. इन्सेफेलाइटिस की वजह से बच्चे़ के ब्रेन में सूजन आ जाती है. बच्चों के हायर मेंटल फंक्शंस सबसे पहले प्रभावित होते हैं. इसके बाद बाकी बॉडी फंक्शंस पर धीरे-धीरे इफेक्ट होने लगता है. आई, ईयर, वीकनेस जैसी चीजें अधिक सूजन बढ़ने पर आती है. स्पीच पर भी फर्क आ सकता है. बेहोशी की हालत होने लगती है. कम बोलना शुरू होना आता है.

आपको बता दें, इस साल महाराष्ट्र में H1N1 तेजी से फैल रहा है और अब तक 300 लोगों की मृत्यु हो चुकी है. तीन हफ्ते पहले दक्षिण मुबंई में एक चार साल के बच्चे को अचानक दौरा पड़ने पर मुंबई के जसलोक हॉस्पिटल में तुरंत लेकर जाया गया. पेड्रियाट्रिक न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. आनिता हेगडे ने बच्चे को आवाज भी लगाई लेकिन बच्चा सदमे की स्थिति में था. डॉक्टर्स ने अनुमान लगाया कि बच्चा H1N1 वायरस से इंफेक्टिड है. जांच में डॉक्टर्स का अनुमान एकदम सही निकला.

About the author

TheHealthCareToday

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com