आहार योजना कैंसर हेल्थ इंडस्ट्रीज न्यूज

त्‍वचा कैंसर से बचाव के साथ सिर्फ एक टमाटर खाने के हैं इतने फायदे कि…

हेल्थ डेस्क: डॉक्टर्स टमाटर को हमेशा से ही हेल्दी फ़ूड के तौर पर रेकमेंड करते हैं. घरों में आमतौर पर सब्जियों में इस्तेमाल होने वाला टमाटर एक सेहतवर्धक भोज्य पदार्थ है. आपने भी टमाटर खाने के कई फायदे पहले सुने होंगे, लेकिन आज हम आपको टमाटर के बड़े फायदे के बारे में बताएंगे.
एक नए शोध में सामने आया है कि टमाटर का रोजाना सेवन करने से आप त्‍वचा कैंसर की समस्‍या से दूर रहते हैं.

अध्यन में सामने आया है कि टमाटर कैंसर के ट्यूमर को बढ़ने से रोकता है और उसे नष्ट करने में भी मददगार हो सकता है. नए अध्ययन में यह भी बताया गया कि लाल टमाटर में कैरोटिनॉयड नामक तत्व होता है, जो ट्यूमर को घटाने में मदद करता है.

टमाटर में पाया जाने वाला लाइकोपीन रसायन भी कैंसर से लड़ने में सक्षम है. अध्ययन के सह लेखक डॉ. जेसिका कूपरस्टोन ने कहा कि फल या सब्जियां कोई दवाई नहीं हैं, लेकिन इनके उपभोग से बीमारियां होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती हैं. यहां बता दें कि नॉन-मेलेनोमा त्वचा कैंसर विश्व में सबसे आम त्वचा कैंसर है. दुनियाभर में हर साल लाखों लोग इस कैंसर से पीड़ित होते हैं.

ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस अध्ययन के तहत चूहों पर परीक्षण किया. उन्होंने चूहों के दो समूह बनाए. एक समूह के आहार में 35 हफ्ते तक टमाटर का पाउडर भरपूर मात्र में शामिल किया गया और दूसरे में नहीं. इसके बाद दोनों समूहों को पराबैंगनी किरणों के बीच रखा गया. इसमें देखा कि जिन चूहों को टमाटर का पाउडर खिलाया गया था, उनमें घातक कैंसर होने की संभावना 50 फीसदी तक कम हो गई थी.

British Skin Foundation के प्रवक्ता डॉक्टर राचेल एबॉट ने कहा कि इस अध्ययन से मिले नतीजों के आधार पर टमाटर के गुणों का मनुष्यों पर परीक्षण करने की योजना है. उन्होंने कहा, त्वचा के कैंसर से बचने के लिए सूरज की किरणों से बचाव बहुत जरूरी है. आप टमाटर खाकर काफी हद तक इस रोग से दूर रह सकते हैं.

टमाटर के अलावा भी तमाम फल और सब्जियां हैं, जो कैंसर से लड़ने में सक्षम हैं. मिर्च, गाजर और शकरकंद का सेवन महिलाओं में गर्भाशय कैंसर के खतरे को कम कर सकता है. 15 साल तक 15 हजार महिलाओं पर हुए एक शोध से यह तथ्य सामने आ चुका है. वहीं गहरे रंग वाली सब्जियां खाने से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता है.

क्लीनिकल परीक्षणों से पता चला कि कैरोटिनॉयड सन बर्न को भी ठीक करने में मददगार है. इन्हें खाने के बाद एंटीऑक्सीडेंट यौगिक खासतौर पर लाइकोपीन त्वचा पर जमा हो जाते हैं, जो कैंसर के ट्यूमर बनने से रोकते हैं. शोध में बताया गया कि टमाटर पेट के कैंसर को भी कम करने में मददगार है. अखरोट स्तन और प्रोस्टेट कैंसर को रोकता है. वहीं लहसुन स्तन, पेट का कैंसर रोकता है.

About the author

TheHealthCareToday

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com